आइये नीचे तक पढ़ते हैं पूरी रिपोर्ट :::: सपा-बसपा के गठबंधन के बाद सुलतानपुर में चर्चा तेज हो गई है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में गठबंधन का प्रत्याशी कौन होगा? माना जा रहा है कि सुलतानपुर की यह वीआइपी सीट बसपा के खाते में जा सकती है। इसकी दो वजह हैं एक तो सुलतानपुर